Aug 292014
 

[ Click here to read this page in English]

————————————————————————–

 I.            जीवन विद्या शिविर = परिचय शिविर – 2 प्रकार

a)      प्राथमिक परिचय शिविर (वर्तमान का समीक्षा सहित सहअस्तित्व का सामान्य परिचय)

b)     विकल्प एवं अध्ययन बिंदु परिचय शिविर (विकल्पात्मक अध्ययन तथा अभ्यास की आवश्यकता स्पष्ट होने)

    

II.            अध्ययन शिविर (मध्यस्थ दर्शन का) – 2 प्रकार

a)     अंश कालीन: (दर २-३ माह, १-२ वर्ष के लिए) (१२ पुस्तकों सहित विधिवत अध्ययन)

b)     पूर्ण कालीन: (६ माह, 1, 2 वर्ष पुरे समय) (१२ पुस्तकों सहित विधिवत अध्ययन एवं अभ्यास )

 

III.            गोष्ठी – 2 प्रकार

a)      अध्ययन गोष्ठी:  (पढना पूरा करने हेतु)

b)     अवधारणा गोष्ठी:   (समझ को पूरा एवं जाँच करने हेतु)

 

IV.           अनुभव शिविर:

                        अनुभव पर चर्चा,घोषणा

 

– लेख जिम्मेदारी: श्रीराम नरसिम्हन (shriram@live.in) | तिथि : अगस्त  2014 | स्थिति : विद्यार्थी
 August 29, 2014  Uncategorized
Madhyasth Darshan